बस्ती: अधिवक्ता के घर में हुई लूट का खुलासा:पुलिस ने दो लोगों को किया 2 गिरफ्तार, नगदी-जेवरात बरामद, दिव्यांग पत्नी को घायल कर की थी लूट

208

बस्ती। कोतवाली थाना क्षेत्र के रौता पुलिस चौकी के निकट अधिवक्ता के घर पर हुई लूट की घटना का पुलिस ने खुलासा किया है। मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी की है। उनके पास से लूटे गए 9 सोने के गहने, 12 हजार 250 रुपए, एक लोहे का सब्बल, 2 मोबाइल की बरामदगी की है।




बता दें कि कोतवाली थाना क्षेत्र के रौता पुलिस चौकी के निकट 11 सितंबर को अधिवक्‍ता सुरेन्‍द्र मोहन वर्मा के घर में घुसे 2 बदमाश उनकी पत्‍नी नूतन वर्मा को प्रहार कर घायल कर दिया था और घर से नगदी और जेवरात लेकर फरार हो गए थे। जिस समय घटना हुई अधिवक्‍ता सुरेन्‍द्र मोहन वर्मा कचहरी गए थे। घर पर उनकी दिव्यांग पत्नी अकेले घर पर थी। घर में घुसे बदमाशों ने उन्‍हे बंधक बनाकर लूट की, विरोध करने पर उनके ऊपर चाकू से वार कर दिया था। एसपी गोपाल कृष्‍ण चौधरी ने बताया कि कोतवाली पुलिस, स्वाट टीम, एसओजी टीम की संयुक्त कार्यवाही में लुटेरों को गिरफ्तार कर नगदी और जेवरात बरामद किया गया। बताया कि

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दो लोगों को किया गिरफ्तार

मुखबिर की सूचना पर टीम ने शुक्रवार को अमहट पुल के पास से नगर थाना क्षेत्र के महरीपुर निवासी रामदेव यादव उर्फ प्रिंस,पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र के करमा गांव निवासी राजेश उर्फ राजू को गिरफ्तार कर लूट के सामान व पैसे की बरामदगी की गई। रामदेव के खिलाफ कोतवाली में हत्या, नगर में गुंडा एक्ट सहित 3 आपराधिक मुकदमे दर्ज है, जबकि राजेश पर कोतवाली, पुरानी बस्ती, कप्तानगंज में चोरी, गैंगस्टर, गुंडा एक्ट की धाराओं में 12 मुकदमे दर्ज हैं।

पूछताछ में पता चला की आरोपी अधिवक्ता के यहां गाड़ी चलाता था

एसपी ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि रामदेव पहले अधिवक्ता के यहां गाड़ी चलाता था और उनके घर से पूरी तरह परिचित था। लूट के दौरान विरोध करने पर अधिवक्ता की पत्नी पर सब्बल से प्रहार कर बाथरूम में बंद कर घर में लूट किया था। अधिवक्ता ने लूट की धनराशि 60 हजार रुपए बताया था, जबकि पकड़े गए लुटेरों ने उनके घर से लगभग 20 हजार रुपए मिलना बताया है। दोनों को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही कर न्यायालय के लिए रवाना किया गया है।