बस्ती में प्रधान के दो बेटों ने किया रेप:खेत जाते समय दोनों ने की दरिंदगी, बताने पर जान से मारने की दी धमकी

78

  • पीड़िता ने रोते हुए अपनी बात रखी

बस्ती के लालगंज थाना क्षेत्र के एक गांव का में अपने घर से खेत की तरफ गई युवती के साथ गांव के दो युवकों ने गैंग रेप किया। इस दौरान वह बेहोश हो गई तो युवक उसे छोड़कर भाग गए। पीड़िता ने बताया कि जब उसे होश आया तो वह घर पहुंची और परिजनों को अपनी आप बीती सुनाई। इसके बाद पीड़िता थाने पर भी गई। लेकिन वहां उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई।

पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों युवक प्रधान के बेटे हैं। दुष्कर्म करने के बाद दोनों ने कहा कि किसी से कुछ कहोगी तो जान से मार देंगे। इतना ही नहीं अपहरण कराने की धमकी भी दे डाली, बताया कि प्रधान गांव के दबंग हैं, जिसके कारण उनके खिलाफ कोई नहीं बोलता और पुलिस थाने में अच्छी पकड़ होने के कारण मेरी सुनवाई थाने पर नहीं हुई।

ASP ने दिये जांच के आदेश

प्रकरण को लेकर जब अपर पुलिस अधीक्षक दीपेंद्र चैधरी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि पीड़िता पहली बार उनके पास आई थी। लालगंज थानाध्यक्ष को विविधि कार्रवाई के लिए निर्देश कर दिया गया है। यह भी देखा जाएगा कि किन परिस्थितियों में इनका एसआईआर नहीं दर्ज हुआ, यह जांच का विषय है।

Basti Gangrape News: उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में शौच को गई एक नाबालिग लड़की के साथ दो युवकों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है. वहीं गैंगरेप के बारे में किसी को कुछ भी बताने की बात पर दबंग युवकों ने उसे जान से मारने की धमकी दी. मामले में पीड़ित नाबालिग युवती की थाने में भी सुनवाई नहीं हुई. जिसके बाद पीड़ित युवती इसकी शिकायत करने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची, फिलहाल पुलिस अधीक्षक ने पीड़िता को न्याय का भरोसा दिलाया है.

दरअसल बस्ती जिले में लालगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग युवती अपने घर से शौच के लिए निकली और जब वह सिवान में पहुंची तो गांव के ही दो युवकों ने उसको जबरन पकड़कर गैंगरेप जैसी घटना को अंजाम दिया और नाबालिग को बदहवास छोड़कर फरार हो गए. जब पीड़िता को होश आया तो वह घर पहुंची और परिजनों को अपनी आप बीती सुनाई. आप बीती सुनने के बाद पीड़िता थाने पर भी गई लेकिन वहां उसकी कोई सुनवाई नहीं की गई, जिसके कारण थक हार कर पीड़िता को न्याय की गुहार लगाने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर आना पड़ा.

प्रधान के बेटे पर गैंगरेप का आरोप

एसपी ऑफिस पहुंची पीड़िता ने आरोप लगाया कि गांव के प्रधान के बेटे परमानंद और उसके साथी उमेश यादव ने जबरन उसको सिवान में ले जाकर बारी-बारी से गैंगरेप किया और फिर किसी से कुछ कहने पर जान से मार देने और अपहरण कराने की धमकी दे डाली. पीड़िता का आरोप है कि प्रधान गांव का दबंग है, जिसके कारण उनके खिलाफ कोई नहीं बोलता और पुलिस थाने में अच्छी पकड़ होने के कारण उसकी सुनवाई नहीं हुई.

मामले की जांच के आदेश

इस पूरे मामले पर अपर पुलिस अधीक्षक दीपेंद्र नाथ चौधरी ने बताया की ‘थाना लालगंज से संबंधित प्रकरण प्राप्त हुआ है, मामले में थाना लालगंज को निर्देशित किया गया है कि स्वंय जा कर प्रकरण की जांच करें और विधिक कार्यवाही करें.’ वहीं पीड़िता के बार-बार थाने जाने के सवाल पर अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया की किन परिस्थिति में उसकी एफआईआर नही लिखी गई इसकी भी जांच कराई जाएगी.

विज्ञापन बॉक्स