केले के फूल का अचार बनाकर किसान कर सकते हैं अच्‍छी कमाई, जानिए पूरा तरीका

184

केले की खेती करने वाले किसान अगर सूझबूझ से काम लें तो केले की बिक्री से अच्‍छी कमाई के साथ ही वे केले के फूलों से भी काफी मोटी कमाई कर सकते हैं।

फसल लगने के दौरान या कटाई के समय इसमें से एग्रीकल्चर वेस्ट (Agriculture Waste) के रूप में पत्तियां, फूल डंठल निकलते हैं। किसान या तो इन्हें फेंक देते हैं या फिर खाद बनाने में इनका इस्तेमाल कर लेते हैं।

कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक केले की नर कली (Banana Male Bud) एग्रीकल्चर वेस्ट में आती है। ये फल विकसित नहीं करते हैं और आमतौर पर गिर जाते हैं। अब किसान इनका अचार बनाकर अच्‍छी कमाई कर सकते हैं।

तमिलनाडु स्थित ICAR-National Research Centre for Banana के वैज्ञानिकों ने फूल से अचार बनाने की तकनीक को ईज़ाद किया है।

इस तकनीक से बनाया जाने वाला केले के फूल का अचार स्वादिष्ट होता है। यह अचार एक साल तक आराम से चल भी जाता है।

अगर आप बड़े स्तर पर केले के फूल से अचार बनाने के व्यवसाय की शुरुआत करना चाहते हैं तो इसमें ICAR-NRCB किसानों को इसकी ट्रेनिंग देकर उनकी मदद भी करता है।

अचार बनाने के लिए सबसे पहले केले के फूल की पंखुरियों को निकाल कर अंदर नज़र आने वाले सफ़ेद भाग को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटना होता है।

इसे तीन-चार बार पानी से अच्छे से धो लें। फिर एक बड़े बर्तन में स्वादानुसार नमक डालकर पानी में 30 से 40 मिनट तक के लिए उबाल लें।

फ्राइंग पैन में तेल गरम करें और इन उबले हुए केले के फूल के टुकड़ों को उसमें डाल दें। ऊपर से हल्दी पाउडर,लाल मिर्च पाउडर, अचार मसाला डालकर करीबन पांच मिनट मध्यम आंच पर अच्छे से पकाएं। केले के फूल का अचार तैयार है।

*खेती-किसानी, बागवानी और पशुपालन से जुड़ी हर जानकारी | कृषि और किसानों से जुड़ी सूचनाओं व समाचारों के लिए अ‍भी डाउनलोड करें भारत ऐप.