महराजगंज: हूटर लगी गाड़ी से बस को ओवरटेक कर यात्री को मारा गया चाकू

934

 

रिपोर्ट:अपराध संवाददाता।

घुघली/महराजगंज। अपराध के क्षेत्र में महराजगंज जनपद अन्य जनपदों के हिसाब से बहुत ही शांतिप्रिय माना जाता रहा हैं लेकिन कुछ वर्षों से जो आपराधिक घटना अखबारों में पढ़ी जाती थी वह आज जनपद में आये दिन घटित हो रहा हैं। ऐसा लग रहा है मानो जैसे अपराधी दिन दहाड़े बड़े घटना को अंजाम देकर जनपदीय पुलिस को चुनौती दे रहे हो। ताजा मामला पुरैना में स्थित घुघली थाने से मात्र 100 मीटर की दूरी पर दिन के उजाले में निर्भीक और निडर होकर हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी से एक प्राइवेट बस को ओवरटेक करके बस में बैठे एक यात्री को चाकू से प्रहार किया गया।

एक नजर डालते हैं पूरे घटना क्रम पर।

जनपद कुशीनगर निवासी अजय कुमार खरवार ने शनिवार को घुघली पुलिस को एक लिखित शिकायत देकर कहा हैं कि मैं रोजी-रोटी के तलाश में हिमांचल प्रदेश गया हुआ था शुक्रवार को गोरखपुर से एक प्राइवेट बस में बैठकर अपने घर फटकदौना जा रहा था कि पुरैना स्थित थाने से मात्र 100 मीटर की दूरी पर हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी नम्बर UP56AP/8037 बस को ओवरटेक कर सामने आकर खड़ी हो गई। मैं परिचालक के सीट पर बैठा था अभी मैं कुछ समझ पाता कि आर्टिगा गाड़ी से निकलकर तीन आदमी नीचे गेट पर खड़े हो गए और तीन आदमी बस के अंदर आकर हमसे मारपीट करते हुए शर्ट का कालर पकड़कर खीचतान करने लगे इतने में एक आदमी हमारे ऊपर चाकू से प्रहार कर दिया जिससे हमें कई जगह चोटे आयी हुई हैं।अपने आप को असफल देख हमारा बैग छीनकर लेकर चले गए।जिसमे घर के वास्ते कुछ जरूरत की सामान था।अंत मे शिकायत कर्ता ने कार्यवाही का मांग किया हैं।

किसकी हैं हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी।

RTO विभाग के अभिलेखों के अनुसार हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी सिंदुरिया थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर कोर्ट निवासी अवधेश कुमार पुत्र चंद्रिका के नाम 21 दिसम्बर 2021 को पंजीकृत हैं।

निजी वाहनों पर हूटर लगाना क्या जायज हैं।

मोटरयान अधिनियम की धारा 190(2)के तहत निजी वाहनों पर हूटर लगाने पर कार्यवाही का प्राविधान हैं तो फिर ऐसे में यह कौन शख्स हैं जो कानून की धज्जियां उड़ाता रहा और पुलिस का हाथ उन तक नही पहुँच पाया।

 हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी के चालक ने क्या कहा।

हूटर लगी आर्टिगा गाड़ी के नम्बर से जांच पड़ताल में सदर कोतवाली मउपाकड़ निवासी बलिराम साहनी का नाम सामने आया हैं जो आर्टिगा गाड़ी के घटना स्थल पर चालक थें।

बलिराम साहनी का कहना हैं कि आर्टिगा गाड़ी अवधेश कुमार से 8लाख रुपये में लिया हूँ जिसमे मात्र अभी 2लाख रुपया दिया हूँ जिसके कारण गाड़ी हमारे नाम नही हुआ हैं घटना क्रम के बारे में बताया कि मेरे एक पहचान के द्वारा महराजगंज से पुरैना के लिए 1000 रुपये नगद और तेल पर गाड़ी बुक किया गया था मेरे गाड़ी में चार आदमी बैठे हुए थें जिसमें मुंडेरा कला 2 पुरैना 1 व देवरिया निवासी 1आदमी बैठा हुआ था।जिसको मैं भलीभांति जानता हूँ पुरैना थाना के पास एक बस का ओवरटेक करते हुए मुझे रोकने के लिए कहा गया।मैने बस के सामने गाड़ी रोक दिया आगे क्या हुआ मैं नही जानता हूँ।उक्त चारो आदमी के बारे में पूरी जानकारी घुघली पुलिस को दे दिया हूँ।

कानून की धज्जियां उड़ाते हुए निजी गाड़ी पर कौन लगवाया हूटर।

मउपाकड़ निवासी बलिराम साहनी ने बताया कि यह गाड़ी पहले जनपद के एक जिला पंचायत सदस्य का था जिन्होंने हूटर लगवाया था जिसको मैं निकाल नही पाया।जबकि परिवहन विभाग के अभिलेखो के अनुसार सिंदुरिया थाना निवासी अवधेश कुमार आर्टिगा गाड़ी UP56AP/8037 के प्रथम गाड़ी मालिक हैं।ऐसे में एक जिला पंचायत सदस्य दूसरे के गाड़ी पर हूटर क्यो लगाएगा।इनके बातो में कितनी सत्यता हैं यह जांच का विषय हैं।

बलराम साहनी ने कहा मामले का हो गया समझौता

जब हमारे संवाददाता बलिराम साहनी से बात किया तो उनके द्वारा बताया गया कि पुलिस विभाग में हमारे एक पहचान के हैं वह घुघली दिवान और अन्य लोगो से बात करके मामले का समझौता करवा दिए हैं अब कोई बात नही हैं।जबकि शिकायतकर्ता को समझौता के मामले में कोई जानकारी नही हैं।ऐसे में क्या अर्थ निकाला जाय कि खाकी वर्दी के दबाव में टोपी-टोपी एक होकर मामले को ठंडे बस्ते में डालने का प्रयास किया जा रहा हैं।

मामलों के पैरवी में लगे उन खाकी वर्दी से भी हुआ बात

हमारे संवाददाता से मामले के पैरवी में लगे खाकी वर्दी ने घटना के दौरान आर्टिगा गाड़ी के चालक के रूप में बलिराम साहनी के मोबाइल नम्बर से बात करते हुए कहा ही बलिराम साहनी को गलत रूप से फसाया जा रहा हैं यह ऐसा कर ही नही सकता।हूटर पर बात करते हुए खाकी वर्दी ने कहा की गलती से हूटर बज गया होगा इसमें कोई बड़ी बात नही हैं वह निकाल देगा।आगे खाकी वर्दी ने कहा कि आप पत्रकार लोग मामलों को तूल दे रहे हैं जो गलत हैं ऐसा आप लोगो को नही करना चाहिए।

क्या शिकायत कर्ता को न्याय मिलेगा।

जहां एक तरह पीड़ित शिकायत कर्ता अजय खरवार घुघली पुलिस से कार्यवाही की मांग कर रहा हैं तो वही पुलिस मुख्यालय पर तैनात एक खाकी वर्दी द्वारा दूसरे पक्ष के बचाव के लिए पैरवी की जा रही हैं तो ऐसे में क्या पीड़ित शिकायत कर्ता को न्याय मिल पायेगा।

मामले में घुघली थानाध्यक्ष द्वारा क्या कहा गया।

हमारे संवाददता ने जब घुघुली थानाध्यक्ष नीरज राय से बात किया तो उनके द्वारा बताया गया कि मामला हमारे संज्ञान में हैं एक निजी गाड़ी पर हूटर लगाकर मामले को अंजाम दिया गया हैं।पीड़ित अजय खरवार द्वारा शनिवार को एक लिखित शिकायत मिली हैं सोमवार को उन्हें बुलाया गया हैं जांच कर कार्यवाही की जाएगी।

दुनिया प्रदेश की ताजा तरीन खबरें और रोचक जानकारीयों के लिए जुडिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से..लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज अपने व्हाट्सएप पर पायें…